प्रीमियम कोर्सक्या आपको adsense अकाउंट की आवश्यकता हैयहाँ क्लिक करें

Republic day Hindi Shayari, Speech, Quotes & images

Jab bhi hamare mann mein Republic day ka khyal aata hai to mann khushi se jhoom uthta hai. Republic day in india mein har 26th January ko manaya jata hai.



    Republic day meaning in Hindi


    Republic day ko Hindi mein Gantantra Divas (गणतंत्र दिवस) ke naam se bhi hum jante hai.

    Importance of Republic Day


    26th January 1950 ko indian ke sabidhan ke rup mein bharat sarkar adhiniyam (1935) ke tahat hum bharat pe  Republic Day manate hai.

    Yaani isi din hum india ne bharat ke samvidhan ko apnaya tha. 26 November 1949 ko ek lok tantra sarkar pranali ke saath prabhao mein aaya tha.

    India ko Bristish Raaj se azadi mila 15th August 1947 ko tab se le kar aaj 2020 tak hum indian Republic Day har year manate hai.

    Aaj hum iss article se aap sabhi ke liye republic day se juda Quotes, shayri, Speech le kar aaye hai jo har ek indian’s ko republic day ke din chahiye hota hai.

    Republic day Shayari in Hindi


    ना जियो धर्म के नाम पर,
    ना मरों धर्म के नाम पर,
    इंसानियत ही है धर्म वतन का,
    बस जियो वतन के नाम।

    बलिदानों का सपना जब सच हुआ,
    देश तभी आजाद हुआ,
    आज सलाम करे उन वीरों को,
    जिनकी शहादत से ये भारत गणतंत्र हुआ।

    अलग है भाषा,
    धर्म जात और प्रांत,
    पर हम सब का एक है,
    गौरव राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेष्ठ।


    तिरंगा हमारा है शान-ए-जिंदगी,
    वतन परस्ती है वफ़ा-ए-जिंदगी,
    देश के लिए मर मिटना कबूल है हमें,
    अखण्ड भारत के स्वप्न का जूनून है हमें।

    नफरत बुरी है ना पालो इसे,
    दिलों में खलिश है निकालो इसे,
    न तेरा, न मेरा, न इसका न उसका,
    ये सबका वतन है संभालो इसे।

    चढ़ गये जो हंसकर सूली,
    खाई जिन्होंने सीने पर गोली,
    हम उनको प्रणाम करते हैं,
    जो मिट गए देश के लिए,
    हम उनको सलाम करते हैं।

    तिरंगा लहरायेंगे,
    भक्ति गीत गुनगुनाएंगे,
    वादा करो इस देश को,
    दुनिया का सबसे प्यारा देश बनायेंगे।

    मै भारतवर्ष का हरदम अमित सम्मान करता हूँ,
    यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
    मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
    तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ

    Republic day speech in Hindi


    वो शमा जो काम आये अंजुमन के लिए
    वो जज्बा जो कुर्बान हो जाये वतन के लिए
    रखते है हम वो हौसले भी जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए


    लहराएगा तिरंगा अब सारे आसमां पर
    भारत का नाम होगा सब की जुबान पर
    ले लेंगे उसकी जान या दे देंगे अपनी जान
    कोई जो उठाएगा आँख हमारे हिंदुस्तान पर

    राष्ट्र के लिए मान-सम्मान रहे
    हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे
    देश के लिए एक-दो तारीख नही
    भारत माँ के लिए ही हर सांस रहे

    बता दो आज इन हवाओं को
    जला कर रखो इन चिरागों को
    लहू देकर जो ली आजादी
    टूटने ना देना ऐसे प्रेम के धागों को

    तीन रंग का है तिरंगा
    ये ही मेरी पहचान है
    शान देश की, आन देश की
    हम तो इसकी ही सन्तान हैं

    मैं तो सोया था गहरी नींद मैं
    सरहद पर था जवान जगा रात सारी,
    ये सोच कर नींद मेरी उड़ गयी
    जवान कर रहा रक्षा हमारी


    Happy republic day image



    images of republic day images of republic day images of republic day images of republic day images of republic day

    Republic day quote in Hindi


    नहीं सिर्फ जश्न मनाना, नहीं सिर्फ झंडे लहराना,
    ये काफी नहीं है वतन पर, यादों को नहीं भुलाना,
    जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना,
    खुदा के लिए नही ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना,
    हम लाएं है तूफ़ान से कश्ती निकाल के,
    इस देश को रखना मेरे बच्चों संभाल के….||

    आज शहीदों ने है तुमको, अहले वतन ललकारा,
    तोड़ो गुलामी की जंजीरें, बरसाओ अंगारा,
    हिन्दू-मुस्लिम-सिख हमारा, भाई-भाई प्यारा,
    यह है आजादी का झंडा, इसे सलाम हमारा ||
    Indian Republic day की शुभकामनाये.

    तैरना है तो समंदर में तैरो
    नदी नालों में क्या रखा है,
    प्यार करना है तो वतन से करो
    इस बेवफ़ा लोगों में क्या रखा है ||
    गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं.

    सारे जहाँ से अच्छा, हिन्दोस्ताँ हमारा
    हम बुलबुलें हैं इसकी, यह गुलिस्ताँ हमारा ||




    Poem on republic day in Hindi


    चलो फिर से आज वो नजारा याद करले,
    चलो फिर से आज वो नजारा याद करले,
    शहीदों के दिलो में थी जो वो ज्वाला याद करले,
    जिसमे बहकर आजादी पहुची थी किनारे पे,
    जिसमे बहकर आजादी पहुची थी किनारे पे,
    देशभक्ति के खून की वो धारा याद करले ||

    ना मरो सनम बेवफा के लिए,
    ना मरो सनम बेवफ़ा के लिए.
    2 गज जमीन नही मिलेगी दफन के लिए,
    मरना है तो मरो अपने वतन के लिए,
    मरना है तो मरो अपने वतन के लिए,
    हसीना भी दुपट्टा उतार देगी कफ़न के लिए ||
    वतन हमारा ऐसे न छोर पाए कोई,
    वतन हमारा ऐसे न छोर पाए कोई,
    रिश्ता हमारा ऐसा ना तोड़ पाए कोई,
    दिल है हमारे एक है, एक है हमारी जान,
    दिल है हमारे एक है, एक है हमारी जान,
    हिन्दुस्तान हमारा है हम है इसकी शान ||



    दाग गुलामी का धोया है जान लुटा कर,
    दीप जलाये है कितने दीप भुझा कर,
    मिली है जब यह आज़ादी तो फिर इस आज़ादी को…
    रखना होगा हर दुश्मन से आज बचाकर ||
    हैप्पी रिपब्लिक डे.

    चलो फिर से खुद को जागते है,
    अनुसासन का डंडा फिर घुमाते है,
    सुनहरा रंग है गणतंत्र का सहिदो के लहू से,
    ऐसे सहिदो को हम सब सर झुकाते है ||
    आपको गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें.



    भूख, गरीबी, लाचारी को,
    इस धरती से आज मिटायें,
    भारत के भारतवासी को,
    उसके सब अधिकार दिलायें
    आओ सब मिलकर नये रूप में गणतंत्र मनायें||
    || गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें ||



    देश भक्तो की बलिदान से,
    स्वतन्त्र हुए है हम,
    कोई पूछे कोन हो,
    तो गर्व से कहेंगे.
    भारतीय है हम…
    Happy Gantantra Diwas…

    अलग है भाषा, धर्म जात और प्रान्त, भेष, परिवेश
    पर हम सब का एक है गौरव राष्ट्रध्वज तिरंगा
    श्रेष्ठ गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं ||


    Happy Republic Day Shayari



    भारत के गणतंत्र का, सारे जग में मान,
    दशकों से खिल रही, उसकी अद्भुत शान,
    सब धर्मो को देकर मान रचा गया इतिहास का,
    इसलिए हर देशवासी को इसमें है विश्वास ||
    गणतंत्र दिवस की ढ़ेरो शुभकामनाए.

    जमाने भर में मिलते है आशिक कई,
    जमाने भर में मिलते है आशिक कई,
    मगर वतन से खुबसूरत कोई सनम नही होता ||

    Republic Day Shayari For WhatsApp


    जमाने भर में मिलते है आशिक कई,
    जमाने भर में मिलते है आशिक कई,
    मगर वतन से खुबसूरत कोई सनम नही होता ||


    आओ झुक कर सलाम करे उनको,
    जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है,
    खुशनसीब होता है वो खून जो देश के काम आता है…..!!




    Short speech on republic day in English



    “First of all, I would like to greet our respected Principal, our respected teachers, and my fellow classmates with a very good morning. We are gathered here to celebrate an auspicious occasion of our nation, the 69th Republic Day. I’d like to take this opportunity to greet all of you a very Happy Republic Day. I’m delighted to have the privilege to share a glimpse on the history of the Republic day of our glorious nation.


    After achieving the independence from the British rule on 15 August 1947, India though didn’t have a permanent constitution, all the law were based on modified colonial Government of India Act 1935.  But on 28 August 1947, the Drafting Committee was appointed to draft a permanent constitution, with the help of Dr. B R Ambedkar. After many modifications to the constitution, the final draft was signed by 308 members of assembly on 24 January 1950. Two days later, it came into effect throughout the nation

    On 26 January 1950, the new Constitution Of India came into effect and India became a republic nation. A democratic republic nation, which was not ruled by any hereditary King or Queen, and the government elected by the common people of the country. The constitution also encouraged all citizens to have equal social and economic rights.

    So let’s gather together on this joyous and momentous day, and take an oath to always maintain the sovereignty, which our country has achieved with priceless sacrifices and promise ourselves to make our nation celebrated through the world. With these humble words, I bow my head to the flag, and to every one of you I say, Jai Hind, Jai Bharat”.
    Short Speech on the Republic Day

    एक टिप्पणी भेजें

    0 टिप्पणियाँ