Independence Day Shayari In Hindi

Independence Day Shayari In Hindi

15th August Every year's hum Indians Manate hai. Ye festival isiliye manaya jata hai kyuki 15th Auguest 1947 ko Brtisih se hume azadi mili thi. Tab se le kar aaj tak Hum ye festival manate hai. Jab hamara desh azad hua tab India ko divide kar diya tha British government ne unke baad India and Pakistan naam se do country bana.

Aaj hum iss article pe independence day Shayari ke baare mein aap sabko batane wale hai. Jab bhi independence day ka din aata hai hum khud ko ek saccha desh bhakt dikhane ke liye social media pe independence day re related shayari apne status pe daalte hai.

Aise he kuch chune huye Best independence day Shayari hum aapke liye le kar aaye hai Hope aapko pasand aayega.


independence day Shayari Hindi

चिंगारी आजादी की सुलगी मेरे जश्न में हैं,
इन्कलाब की ज्वालाएं लिपटी मेरे बदन में हैं,
मौत जहाँ जन्नत हो ये बात मेरे वतन में हैं,
कुर्बानी का जज्बा जिन्दा मेरे कफन में हैं.

लड़ें वो वीर जवानों की तरह,
ठंडा खून फ़ौलाद हुआ,
मरते-मरते भी मार गिराए,
तभी तो देश आज़ाद हुआ.

देश को आजादी के नए अफसानों की जरूरत है
भगत-आजाद जैसे आजादी के दीवानों की जरूरत है,
भारत को फिर देशभक्त परवानों की जरूरत है..!!

देशभक्तों से ही देश की शान है
देशभक्तों से ही देश का मान है
हम उस देश के फूल हैं यारों
जिस देश का नाम हिंदुस्तान है

कहते हैं अलविदा हम अब इस जहान को,
जा कर ख़ुदा के घर से अब आया न जाएगा,
हमने लगाई आग हैं जो इंकलाब की,
इस आग को किसी से बुझाया ना जाएगा.

दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान हैं,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका
जब तक दिल में जान हैं..!!

गुलाम बने इस देश को आजाद तुमने कराया है
सुरक्षित जीवन देकर तुमने कर्ज अपना चुकाया है
दिल से तुमको नमन हैं करते
ये आजाद वतन जो दिलाया है….

लहराएगा तिरंगा अब सारे आसमान पर
भारत का ही नाम होगा सबकी जुबान पर
ले लेंगे उसकी जान या खेलेंगे अपनी जान पर
कोई जो उठाएगा आँख हिंदुस्तान पर


देशभक्तों से ही देश की शान हैदेशभक्तों से ही देश का मान हैहम उस देश के फूल हैं यारोंजिस देश का नाम हिंदुस्तान है

दे सलामी इस तिरंगे कोजिस से तेरी शान हैं,सर हमेशा ऊँचा रखना इसकाजब तक दिल में जान हैं..!!

देश को आजादी के नए अफसानों की जरूरत हैभगत-आजाद जैसे आजादी के दीवानों की जरूरत है,भारत को फिर देशभक्त परवानों की जरूरत है..!!

जिस देश में पैदा हुए हो तुम, उस देश के अगर तुम भक्त नहीं
नहीं पिया दूध माँ का तुमने और बाप का तुम में रक्त नहीं…।
वन्देमातरम !! स्वतंत्रता दिवस मुबारक हो !!

भारत की फ़जाओं को सदा याद रहूँगा,
आज़ाद था, आज़ाद हूँ, आज़ाद रहूँगा।

Jo log dusro ko azadi nhi dete,
Unhe khud b iska hak nahi hota

वो ज़िन्दगी ही क्या जिसमे देशभक्ति ना हो।
और वो मौत ही क्या जो तिरंगे में ना लिपटी हो।

जिक्र अगर हीरो का होगा,
तो नाम हिंदुस्तान के वीरों का होगा।

जश्न आज़ादी का मुबारक हो देश वालो को,
फंदे से मोहब्बत थी हम वतन के मतवालो को।

Desh ki mitti ki khusboo seene me ramaa kar aaye hai
Fanah krke tujhe maa k dud ka karz chukane aaye hai

शहीदों के त्याग को हम बदनाम नही होने देंगे,
भारत की इस आजादी की कभी शाम नही होने देंगे।

Sarfaroshi ki tamanna ab hamare dil me hain,
Dekhna hain jor kitna, baju-e-qatil mein hain


लिपट कर बदन कई तिरंगे में आज भी आते हैं,
यूँ ही नहीं दोस्तों हम ये पर्व मनाते हैं।

देश भक्तों के बलिदान से स्वतंत्र हुए हैं हम,
कोई पूछे कौन हो तो गर्व से कहेंगे भारतीय हैं हम।

Na poocho jamane ko, ki kya humari kahani hain,
Humari pehchaan to sirf ye h ki hum Hindustani hai

Ye mat puchho ki vatan ne tumhein kya diya h,
ye puchho ki tumne vatan ke liye kya kiya hai..?


अब तक जिसका खून न खौला, वो खून नहीं वो पानी है
जो देश के काम ना आये, वो बेकार जवानी है…,

जिस दिन रास्ते पर तिरंगा बैचने वाले बच्चे न दिखे उस दिन सोचना हम आज़ाद हो गये।

बेबी को बेस पसन्द हैं, सलमान को केस पसन्द हैं,
मोदी को विदेश पसन्द हैं, और मुझे मेरा देश पसंद हैं।


दे सलामी इस तिरंगे को जिस से तेरी शान हैं……,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका, जब तक दिल में जान हैं।
Vande Matram

independence day Shayari in Hindi

ये बात हवाओ को बताये रखना, 
रोशनी होगी चिरागों को जलाये रखना,
लहू देकर जिसकी हिफाजत हमने की... 
ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना...
Happy Independence Day


Zamane bhar me milte hai aashiq kai,
Magar watan se khubsurat koi sanam nahi hota,
Sone ke kafan me lipat mare shashak kai,
Magar Tirange se khubsurat koi kafan nahi hota.


आन देश की शान देश की, देश की हम संतान हैं,
तीन रंगों से रंगा तिरंगा, अपनी ये पहचान है!


वो तिरंगे वाले DP हो तो लगा लेना भाई जी,
सुना है कल देशभक्ति दिखने वाली तारीख हैं।


मरने के बाद भी जिसके नाम मे जान हैं,
ऐसे जाबाज़ सैनिक हमारे भारत की शान है।


उन आँखों की दो बूंदों से सातों सागर हारे हैं,
जब मेहँदी वाले हाथों ने मंगल-सूत्र उतारे हैं

गंगा यमुना यहाँ नर्मदा,
मंदिर मस्जिद के संग गिरजा,
शांति प्रेम की देता शिक्षा,
मेरा भारत सदा सर्वदा..!!

आओ देश का सम्मान करें…
शहीदों की शहादत याद करे
एक बार फिर से राष्ट्र की कमान,
हम हिंदुस्तानी अपने हाथ धरे,
आओ स्वतंत्रता दिवस का मान करे

भूल न जाना भारत मां के सपूतों का बलिदान
इस दिन के लिए हुए थे जो हंसकर कुरबान
आजादी की ये खुशियां मनाकर लो ये शपथ
कि बनाएंगे देश भारत को और भी महान

तीन रंग का नही वस्त्र, ये ध्वज देश की शान हैं,
हर भारतीय के दिलो का स्वाभिमान हैं,
यही है गंगा, यही हैं हिमालय, यही हिन्द की जान हैं
और तीन रंगों में रंगा हुआ ये अपना हिन्दुस्तान हैं.


आर्मी तो है देश की शान,
जिन्दादिली है जिसकी पहचान।


कुछ तो बात है मेरे देश की मिट्टी में साहेब,
सरहदें कूद के आते हैं यहाँ दफ़न होने के लिए।

independence day Shayari in Hindi 2020


जिन की पत्नी वेकेशन करने मायके चली गई है,
वो स्टेटस पर तिरंगा लगा कर अपनी आज़ादी का ऐलान कर सकते हैं।

मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ।


मेरा “हिंदुस्तान” महान था,
महान हैं और महान रहेगा,
होगा हौसला सबके दिलो में बुलंद
तो एक दिन पाक भी जय हिन्द कहेगा
Bharat Mata Ki Jai


काश मेरी जिंदगी मे सरहद की कोइ शाम आए।
मेरी जिंदगी मेरे वतन के काम आए।।
ना खौफ है मौत का ना आरजु है जन्नत की
लेकीन जब कभी जीक्र हो शहीदो का
काश मेरा भी नाम आए।। काश मेरा भी नाम आए।
पंद्रह अगस्त 2019 की शुभकामनाएं

ना मरो सनम बेवफा के लिए,
दो गज़ जमीन नहीं मिलेगी दफ़न होने के लिए,
मरना हैं तो मरो वतन के लिए,
हसीना भी दुप्पट्टा उतार देगी तेरे कफ़न के लिए

कुछ नशा तिरंगे की आन का हैं,
कुछ नशा मातृभूमि की शान का हैं
हम लहरायेंगे हर जगह ये तिरंगा
नशा ये हिन्दुस्तान की शान का हैं !!

आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे
शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे
बची हो जो एक बूंद भी लहू की
तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे

भारत का वीर जवान हूँ मैं,
ना हिन्दू, ना मुसलमान हूँ मैं,
जख्मो से भरा सीना हैं मगर,
दुश्मन के लिए चट्टान हूँ मैं,
भारत का वीर जवान हूँ मैं ||

देश भक्तों को अक्सर लोग पागल कहते हैं!
कह दो उन्हें… सीने पर जो जख्म हैं,
सब फूलों के गुच्छे हैं,
हमें पागल ही रहने दो, हम पागल ही अच्छे हैं!

कभी ठंड में ठिठुर कर देख लेना,
कभी तपती धूप में जल के देख लेना,
कैसे होती हैं हिफ़ाजत मुल्क की,
कभी सरहद पर चल के देख लेना

संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे,
हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे
हम मिलजुल के रहे ऐसे की
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे.

चलो फिर से आज वह नज़ारा याद कर ले,
शहीदों के दिल में थी वो ज्वाला याद करले,
जिसमे बहकर आज़ादी पहुंची थी किनारे पे
देशभक्तो के खून की वो धारा याद करले..||

मैं मुस्लिम हूँ, तू हिन्दू है,
है दोनों इंसान,
ला मैं तेरी गीता पढ़ लूँ, तू पढ़ ले कुरान,
इस स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर
हैं मेरा बस एक ही अरमान
एक थाली में खाना खाए सारा हिन्दुस्तान

इश्क़ तो करता हैं हर कोई
मेहबूब पे मरता हैं हर कोई,
कभी वतन को मेहबूब बना कर देखो
तुझ पे मरेगा हर कोई……!!!!

ना पूछो ज़माने को,
क्या हमारी कहानी हैं
हमारी पहचान तो सिर्फ ये हैं
की हम सिर्फ हिंदुस्तानी हैं…!!


सदा ही लहराता रहे ये तिरंगा हमारा
सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा
गूंज उठता हैं जहां में चारो ओर…..
लोगो की जुबान से वन्दे मातरम का नारा
वतन की सर बुलंदी के लिए ये दिल क्या
ख़ुशी ख़ुशी मिट जाए ये जिस्म भी हमारा
जो शहीद हो गए वो अमर कहलाये अक्सर
उनकी कुरबानियों के आगे सदा नमन हमारा
इस देश के वासी बखूबी ये जानते हैं की
सोने की चिड़िया कहलाता प्यारा देश हमारा
स्वतंत्रता दिवस की शुभकामना


वतन हमारा ऐसे ना छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसे ना तोड़ पाए कोई,
दिल हमारे एक है एक है हमारी जान,
हिंदुस्तान हमारा हैं हम हैं इसकी शान.
Vande Mataram, भारत माता की जय

मैं मुल्क की हिफाजत करूँगा
ये मुल्क मेरी जान है
इसकी रक्षा के लिए
मेरा दिल और जां कुर्बान है..||
वन्दे मातरम, जय हिन्द

हम आजाद हैं, ये आजादी कभी छिनने नहीं देंगे
तिरंगे की शान को हम कभी मिटने नहीं देंगे
कोई आंख भी उठाएगा जो हिंदुस्तान की तरफ
उन आंखों को फिर दुनिया देखने नहीं देंगे

है नमन उनको, जो यशकाय को अमरत्व देकर,
इस जगत में शौर्य की जीवित कहानी हो गये हैं,
है नमन उनको, जिनके सामने बौना हिमालय,
जो धरा पर गिर पड़े, पर आसमानी हो गये हैं..!!

देश के उन वीर जवानों को सलाम
जो सुरक्षा का एहसास दिलाते हैं,
जो हथेली पर रखकर जान,
हमारी हिफाजत का जिम्मा उठाते हैं.

यदि प्रेरणा शहीदों से नहीं लेंगे
तो ये आजादी ढलती हुई साँझ हो जायेगी
और पूजे न गए, वीर
तो सच कहता हूँ कि नौजवानी बाँझ हो जायेगी.

Ye bat hawao ko bataye rakhna
Roshni hogi chirago ko jalaye rakna
Lahu dekr jiski hifazat hamne aise
Tirange ko sada dil me basaye rakhna

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता

मुकम्मल है इबादत और मैं वतन ईमान रखता हूँ,
वतन के शान की खातिर हथेली पे जान रखता हूँ !!
क्यु पढ़ते हो मेरी आँखों में नक्शा पाकिस्तान का ,
मुस्लमान हूँ मैं सच्चा, दिल में हिंदुस्तान रखता हूँ !!


ये पेड़ ये पत्ते ये शाखें भी परेशान हो जाएं !
अगर परिंदे भी हिन्दू और मुस्लमान हो जाएं
न मस्जिद को जानते हैं , न शिवालों को जानते हैं
जो भूखे पेट होते हैं, वो सिर्फ निवालों को जानते हैं.
मेरा यही अंदाज ज़माने को खलता है.
की मेरा चिराग हवा के खिलाफ क्यों जलता है……
में अमन पसंद हूँ, मेरे शहर में दंगा रहने दो…
लाल और हरे में मत बांटो, मेरी छत पर तिरंगा रहने दो



Independence Day Shayari In Hindi Independence Day Shayari In Hindi Reviewed by BabulalKol on 8:41:00 pm Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

मैं आपकी बहुमूल्य प्रतिक्रिया की सराहना करता हूं। तो, कृपया स्पैम न करें - स्पैम टिप्पणियां तुरंत हटा दी जाएंगी।

नाम फ़ील्ड में ब्रांड नाम का उपयोग न करें और जब तक आप आवश्यक नहीं हों, टिप्पणियों में लिंक का उपयोग करने की अनुमति नहीं है;

ऐसी टिप्पणियाँ तुरंत हटा दी जाएंगी।

धन्यवाद,
बाबूलाल कोल

Blogger द्वारा संचालित.