प्रीमियम कोर्सक्या आपको adsense अकाउंट की आवश्यकता हैयहाँ क्लिक करें

GPS का full form क्या है

GPS का full form क्या है

GPS (जीपीएस) एक इंग्लिश शब्द है जिसका full form होता है Global Positioning System यह एक उपग्रह आधारित नेविगेशन प्रणाली है जो यूजर को पुरे दुनिया में मौसम कि जनकरी बताता है. जीपीएस का अविष्कार सबसे पहले अमेरिका में उनके रक्षा विभाग ने किया था 




    पहला जीपीएस 1960 में महासागर कि जनकरी की सुचना पाने के लिए अमेरिका ने प्रयोग किया था. पहली प्रणाली पांच उपग्रहों के साथ शुरू हुई जो हर घंटे में एक बार जहाजों को अपने स्थान की जांच करने में सक्षम बनाती थी।

    और तब से ले कर ये आज तक सभी इलेक्ट्रिक डिवाइस में प्रयोग किया जाता है. जीपीएस कि मदद से आप किसी भी व्यक्ति का सठिक लोकेशन पता कर सकते है. चाहे वो मोबाइल हो या आपका कार सभी जगह आज इसका उपयोग होता है.

    जीपीएस के भाग


    इसे तीन अलग-अलग खंडों में विभाजित किया जा सकता है जो इस प्रकार हैं:

    अंतरिक्ष सेगमेंट: यह उपग्रहों को संदर्भित करता है। छह कक्षीय विमानों में लगभग 24 उपग्रह वितरित हैं।

    नियंत्रण सेगमेंट: यह उपग्रहों को बनाए रखने और निगरानी करने के लिए विकसित पृथ्वी के स्टेशनों को संदर्भित करता है।

    उपयोगकर्ता सेगमेंट: यह उन उपयोगकर्ताओं को संदर्भित करता है जो स्थिति और समय की गणना करने के लिए जीपीएस उपग्रहों से प्राप्त नेविगेशन संकेतों को संसाधित करते हैं।

    जीपीएस का काम करना


    लगभग 11,500 मील की ऊंचाई पर 12 घंटे (प्रति दिन दो परिक्रमा) की अवधि के साथ 24 उपग्रहों के अलावा कुछ अतिरिक्त उपग्रह हैं। उपग्रहों को ऐसे रखा गया है यह चार उपग्रह पृथ्वी के किसी भी केंद्र बिंदु से क्षितिज के ऊपर होंगे।

    सूचना प्राप्त करने के लिए जीपीएस उपकरण पहले 3 से 4 उपग्रहों के साथ एक संबंध स्थापित करेगा। जीपीएस उपग्रह ने रिसीवर के स्थान सहित एक संदेश प्रसारित किया। जीपीएस क रिसीवर विभिन्न उपग्रहों से संदेश को जोड़कर त्रिकोणासन नामक प्रक्रिया का उपयोग करके सटीक स्थिति की गणना करता है ताकि लोगो को सही और सठिक जानकारी मिल सके

    जीपीएस उपग्रहों को संचार के लिए एक निर्बाध रेखा की आवश्यकता होती है। इसलिए, यह तकनीक इनडोर उपयोग के लिए आदर्श नहीं है। वहाँ कुछ डिवाइस पास के सेल टावरों और सार्वजनिक वाई-फाई सिग्नल का उपयोग करते हैं। इस तकनीक को LPS (लोकल पोजिशनिंग सिस्टम) कहा जाता है और यह GPS का विकल्प है।

    GPS का उपयोग



    • सटीक स्थिति निर्धारित करने के लिए।
    • एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने के लिए।
    • यह किसी व्यक्ति या वस्तु की गति को ट्रैक कर सकता है।
    • दुनिया के नक्शे बनाने के लिए उपयोग किया जाता है।
    • यह दुनिया को सटीक समय देता है।


    एक टिप्पणी भेजें

    0 टिप्पणियाँ