Janiye E Cigarette Kya Hai

Janiye E Cigarette Kya Hai

E Cigarette जिसका full फ्रॉम (इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट) जो कि एक डिवाइस है जो साधारण सिगरेट की तरह दिखता है. ई-सिगरेट का बाहरी भाग सिगरेट और सिगार के जैसा बनाया गया है. इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट एक बैटरी से चलने वाला डिवाइस है जो निकोटीन के घोल को धुएं में परिवर्तित कर देता है. जिससे आपको साधारण सिगरेट जैसा नशा होता है इस धुएं को परम्परागत सिगरेट की तरह फेफड़ों तक लाया जा सकता है. ई-सिगरेट कि एक ख़ास बात यह है कि इसपे तंबाकू नहीं होती है लेकिन इसके पीने वालों को यह एहसास होता है कि वे असली सिगरेट पी रहा हैं.


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 18 सितंबर 2019 से देश में ई-सिगरेट के उत्पादन, बिक्री, निर्यात, आयात, विज्ञापन, भंडारण पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि ई-सिगरेट क्या होती है और इस पर केंद्र सरकार ने प्रतिबंध क्यों लगाया है.


क्या ई-सिगरेट हानिकारक होती है? (Is e-Cigarette harmful for us)



किंग्स कॉलेज जो कि लंदन में तंबाकू एडिक्शन का अध्ययन करने वाले प्रोफेसर एन. मैकनील का कहना है कि "जब लोग तम्बाकू सिगरेट पीते हैं, तो वे अपने अंदर धुएं के 7,000 घटक अपने अन्दर ले जाते हैं, जिनमें से 70 को कैंसर पैदा करने वाला माना जाता है. ये तत्व ई-सिगरेट में कम मात्रा में होते हैं. इसलिए हम कह सकते हैं कि ई-सिगरेट तंबाकू सिगरेट की तुलना में कम हानिकारक है. लेकिन यह सच है कि ई-सिगरेट भी हानिकारक है यह आपके स्वस्थ के लिए बिलकुल सहि नहीं है 


DISCLAIMER: धुम्रपान आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है कृपया इसका सेवन ना करे 



ई-सिगरेट के धूम्रपान से आपके और हमारे  फेफड़ों की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकता है. ई-सिगरेट तम्बाकू सिगरेट के रूप में मसूड़ों और दांतों के लिए भी बहुत हानिकारक हैं.
कुछ अन्य शोधों के अनुसार, जो लोग ई-सिगरेट का उपयोग करते हैं, उनमें दिल का दौरा पड़ने का खतरा अधिक होता है और अवसाद की संभावना दोगुनी हो जाती है. यहां तक कि लंबे समय तक ई-सिगरेट के इस्तेमाल से भी रक्त के थक्के जमने की समस्या और कैंसर भी हो सकता है.

ई-सिगरेट नियम उल्लंघनकर्ताओं के लिए सजा (Punishment for e-Cigarette’s rule violators)


पहली बार ई-सिगरेट के लिए बनाये प्रतिबंधों का उल्लंघन करने वालों पर एक लाख रुपये का जुर्माना और एक साल की सजा हो सकती है. बार-बार अपराध करने वालों के लिए 3 साल की जेल और 5 लाख रुपये का जुर्माना होगा.

इसलिए उपरोक्त विवरण से यह स्पष्ट है कि ई-सिगरेट स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक है. शायद यही कारण है कि केंद्र सरकार ने देश में पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है.

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां